ट्रैवल एजेंसी बिजनेस कैसे शुरू करें ? | How to Start a Travel Agency Business?

ट्रैवल एजेंसी बिजनेस कैसे शुरू करें ? - भारत में कई जगह पर्यटन स्थल है। इन पर्यटन स्थलों पर घूमने के लिए लोगों को किसी ट्रेवल एजेंसी से संपर्क करना पड़ता है। ट्रैवल एजेंसी उनको पर्यटन स्थलों तक घूमने के लिए साधन मुहैया कराती है। भारत में सिर्फ अपने देश के लोग नहीं बल्कि विदेशों से भी कई यात्री यहां पर रिटर्न करने आते हैं। अगर आप ट्रैवल एजेंसी शुरू करने के बारे में सोच रहे हैं तो आपका विचार बहुत ही अच्छा है क्योंकि इसके जरिए आप कम लागत में अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं। 

इस आर्टिकल में हम आपको ट्रैवल एजेंसी शुरू करने के लिए जरूरी साधनों के बारे में बताएंगे और यह भी बताएंगे कि आप इस बिजनेस से कितना अधिक मुनाफा कमा सकते हैं। अगर आप ट्रैवल एजेंसी शुरू करने जा रहे हैं तो इस आर्टिकल को पूरा और ध्यान से पढ़ें।

ट्रैवल एजेंसी बिजनेस क्या है ?

ट्रैवल एजेंसी बिजनेस में आप का रोल एजेंट का होता है। जैसे यदि कोई व्यक्ति किसी भी विषय जगह पर पैटर्न करने जाता है तो आप उनके लिए फ्लाइट बुकिंग या ट्रेन बुकिंग, कैब बुकिंग, होटल बुकिंग और वीजा, पासपोर्ट इत्यादि उपलब्ध कराते हैं। पर्यटक इसके बदले आपको पैसे देता है। इन सभी चीजों की बुकिंग के लिए आप के जितने पैसे खर्च हुए हैं उसके अलावा अपने सर्विस चार्ज को जोड़कर आप उनसे पैसे ले सकते हैं। इस बिजनेस में आपको अच्छा खासा मुनाफा हो सकता है। अगर आपने अपने बिजनेस में अच्छे सर्विस दी तो आपके दिन-ब-दिन कस्टमर बढ़ते चले जाएंगे और बिजनेस में वृद्धि होती चली जाएगी। ट्रैवल एजेंसी के बिजनेस को आप दो तरीके से शुरू कर सकते हैं पहला ऑफलाइन और दूसरा ऑनलाइन।

ट्रैवल एजेंसी बिजनेस की शुरुआत कैसे करें ?

अगर आप ट्रैवल एजेंसी का बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो सबसे पहले इसके लिए आपको एक ऑफिस बनाना पड़ेगा ताकि कोई कस्टमर आपके उस ऑफिस में विजिट करके सारी जानकारी ले सके। अगर आप इस बिजनेस को और बड़े लेवल पर करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको वेबसाइट बनाना पड़ेगा ताकि दूर की कस्टमर भी आपके पास आ सके। इस साइट पर आपको अपने द्वारा दी जा रही सारी सेवाओं के बारे में भी बताना पड़ेगा और अपने कांटेक्ट नंबर को भी देना पड़ेगा ताकि वह आपसे कांटेक्ट कर सके। इसके लिए आपको एक मेल भी बनाना पड़ता है ताकि आप कस्टमर से कनेक्ट रह सके।

ट्रैवेल एजेंसी का पंजीकरण कैसे और कहाँ से करें ?

वैसे तो ट्रैवल एजेंसी का पंजीकरण अलग-अलग विभागों से होता है लेकिन हम आपको सलाह देंगे कि आप राज्य के पर्यटन विभाग की वेबसाइट या ऑफिस में जाकर ट्रैवल एजेंसी का पंजीकरण कराएं। इसके लिए आप कम पैसे खर्च करने पड़ेंगे और भागदौड़ भी कम करना पड़ेगा। अलग-अलग राज्यों में ट्रैवल एजेंसी के पंजीकरण के अलग-अलग नियम हैं। लेकिन अधिकतर राज्यों में ट्रैवल एजेंसी के पंजीकरण के लिए मालिक की एग्रीमेंट, दो फोटो, पैन कार्ड और आधार कार्ड की आवश्यकता पड़ती है।

बैंक में करंट अकॉउंट होना जरूरी

अगर आप ट्रैवल एजेंसी का बिजनेस शुरू कर चुके हैं तो इसके लिए बैंक में आपके बिजनेस का करंट अकाउंट होना जरूरी है। बिजनेस का करंट अकाउंट होने से या फायदा है कि कोई कस्टमर यादी आपके सर्विस का भुगतान बैंक के माध्यम से करना चाहता है तो उसके पैसे आपके बैंक अकाउंट में आ सकें। क्योंकि आजकल यूपीआई का जमाना चल चुका है इसलिए आप अपने कस्टमर्स को यूपीआई के जरिए पेमेंट करने की सुविधा भी उपलब्ध कराएं। इसके लिए आपको फोनपे, गूगलपे या पेटीएम यूपीआई में अकाउंट बनाना जरूरी है।

बड़ी ट्रैवल कंपनियों से टाइप करें

अगर आपको अपनी ट्रैवल एजेंसी शुरू करनी है तो आप सभी सेवाएं खुद से नहीं दे सकते हैं। इसके लिए आपको किसी बड़ी ट्रैवेल कंपनियों से टाईअप करना पड़ेगा। जैसे आपको अपने किसी कस्टमर के लिए फ्लाइट बुकिंग करनी है तो जाहिर सी बात है कि आपके पास खुद की फ्लाइट नहीं होगी। इसके लिए आपको किसी एयरलाइंस वेबसाइट पर जाकर फ्लाइट बुक करना पड़ेगा। इसी तरह से यदि आपको ट्रेन की बुकिंग करनी है तो इसके लिए आपको आईआरसीटीसी के अकाउंट की जरूरत पड़ेगी। इसी तरह से यदि आपको बस या कैब की बुकिंग करनी है तो इनके अलग-अलग वेबसाइट पर जाकर बुकिंग करना पड़ेगा। इसके लिए आप पहले से ही इनके वेबसाइटों पर अपना अकाउंट क्रिएट कर लें ताकि बाद में कोई समस्या ना आए।

अपने ट्रैवेल एजेंसी तक कस्टमर्स कैसे लाएँ?

आप गूगल एड्स या सोशल मीडिया पर प्रमोशन के जरिए अपने ट्रैवल एजेंसी तक कस्टमर चला सकते हैं। अगर आप अपने ट्रैवल एजेंसी का बड़े स्तर पर प्रचार करते हैं तो भी आपके पास कस्टमर आने शुरू हो जाएंगे। इसके अलावा बहुत सारी ऐसी कंपनियां हैं जिनमें आप टाइअप करके कस्टमर की लीड जनरेट कर सकते हैं।

अपने सर्विस की क्वालिटी अच्छी रखें

अगर आप अपने ट्रैवल एजेंसी के बिजनेस को बढ़ाना चाहते हैं या उसे अच्छे लेवल पर ले जाना चाहते हैं तो अपने सर्विस की क्वालिटी अच्छी रखें ताकि यदि आपका एक कस्टमर आपके सर्विस से खुश रहे तो वह दोबारा आपके पास आ सके। अगर आप अच्छी सर्विस नहीं देंगे तो कोई भी दो बार आपके पास नहीं आएगा।

टिप्पणी पोस्ट करें (0)
नया पेज पुराने